नमस्कार, आईये जुडे मेरे इस ब्लांग से, आप अपनी बाल कहानियां, कविताय़ॆ,ओर अन्य समाग्री जो बच्चो से के लायक हो इस ब्लांग मे जोडॆ,आप अगर चाहे तो आप भी इस ब्लांग के मेम्बर बने ओर सीधे अपने विचार यहां रखे, मेम्बर बनने के लिये मुझे इस e mail पर मेल करे, ... rajbhatia007@gmail.com आप का सहयोग हमारे लिये बहुमुल्य है,आईये ओर मेरा हाथ बटाये.सभी इस ब्लांग से जुड सकते है, लेकिन आप की रचनाये सिर्फ़ सिर्फ़ हिन्दी मे हो, आप सब का धन्यवाद

रविवार की आरती

प्रस्तुतकर्ता राज भाटिय़ा

रविवार की आरती
कहुँ लगि आरती दास करेंगे, सकल जगत जाकि जोति विराजे ।। टेक
सात समुद्र जाके चरण बसे, कहा भयो जल कुम्भ भरे हो राम
कोटि भानु जाके नख की शोभा, कहा भयो मन्दिर दीप धरे हो राम
भार उठारह रोमावलि जाके, कहा भयो शिर पुष्प धरे हो राम
छप्पन भोग जाके नितप्रति लागे, कहा भयो नैवेघ धरे हो राम
अमित कोटि जाके बाजा बाजे, कहा भयो झनकार करे हो राम
चार वेद जाके मुख की शोभा, कहा भयो ब्रहम वेद पढ़े हो राम
शिव सनकादिक आदि ब्रहमादिक, नारद मुनि जाको ध्यान धरें हो राम
हिम मंदार जाको पवन झकेरिं, कहा भयो शिर चँवर ढुरे हो राम
लख चौरासी बन्दे छुड़ाये, केवल हरियश नामदेव गाये ।। हो रामा

3 आप की राय:

राजेंद्र माहेश्वरी said...

बच्चे वे चमकते वे तारे हैं जो भगवान के हाथ से छूटकर धरती पर आये हे।

ATULGAUR (ASHUTOSH) said...

raju ji chaliye aap bhagvan ki aarti se ravivar ki aarti par to aaye aap ke saval ka answer mai apni agli post me duga

Hindi Choti said...


Hindi sexy Kahaniya - हिन्दी सेक्सी कहानीयां

Chudai Kahaniya - चुदाई कहानियां

Hindi hot kahaniya - हिन्दी गरम कहानियां

Mast Kahaniya - मस्त कहानियाँ

Hindi Sex story - हिन्दी सेक्स कहानीयां


Nude Lady's Hot Photo, Nude Boobs And Open Pussy

Sexy Actress, Model (Bollywood, Hollywood)

Post a Comment

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये